41 C
नरसिंहपुर
April 18, 2024
Indianews24tv
देश

नामचीन रियासत के महाराजा, फिर भी पास नहीं घर, गाड़ी और जमीन, संपत्ति के नाम पर सिर्फ सोना, लड़ रहे हैं चुनाव


Mysuru Maharaja Net Worth: देश में राजा-रजवाड़ों का दौर आजादी मिलते ही 1947 में समाप्त हो गया था लेकिन रियासतों की शान ओ शौकत आज भी कायम है. भारत में कई पूर्व राजघरानों के पास अथाह संपत्ति है. इनमें महंगे महल, गाड़ियां और मीलों तक फैली जमीन शामिल हैं. लेकिन, इनमें एक महाराजा ऐसे हैं जिनके पास ना खुद का घर है, ना गाड़ी है और ना ही जमीन है. हैरानी की बात है कि इस मशहूर रियासत के चर्चे पूरे देश में हैं. थोड़ी देर के लिए यह बात लोगों को हजम नहीं होगी लेकिन यह बात सच है. क्योंकि, खुद इस महाराजा ने अपने चुनावी हलफनामे में यह दावा किया है.

यह महाराजा कोई और नहीं बल्कि मैसूर के पूर्व शाही परिवार के वंशज यदुवीर कृष्णदत्त चामराजा वाडियार हैं, जो बीजेपी के टिकट पर मैसूर-कोडगु लोकसभा सीट से चुनावी मैदान में हैं. मनीकंट्रोल पर छपी रिपोर्ट में बताया कि उनके चुनावी हलफनामे के अनुसार, उनके पास घर, जमीन या यहां तक ​​​​कि एक कार भी नहीं है.

ये भी पढ़ें- गरीबी में गुजरा बचपन, देखने पड़े बुरे से बुरे दिन, गांव के इस लड़के ने नहीं छोड़ी आस, अब 91000 करोड़ का मालिक

यदुवीर कृष्णदत्त वाडियार के पास कितनी संपत्ति?
यदुवीर कृष्णदत्त वाडियार, ने 2 अप्रैल को अपना नामांकन दाखिल किया था. इसमें उन्होंने अपनी प्रॉपर्टी और देनदारियों की जानकारी दी. कागजात से पता चला कि उनके पास लगभग 5 करोड़ रुपये की संपत्ति है, जबकि उनकी पत्नी त्रिशिका कुमारी वाडियार और एक अन्य आश्रित व्यक्ति के पास क्रमशः 1.04 करोड़ रुपये व 3.64 करोड़ रुपये की संपत्ति है.

बीजेपी के टिकट पर कांग्रेस से मुकाबला
कागजात से पता चला है कि प्रॉपर्टी के अलावा, वाईकेसी के पास 3.39 करोड़ रुपये के सोने और चांदी के जेवर हैं, जबकि उनकी पत्नी के पास 1.02 करोड़ रुपये के गहने हैं. मैसूरु शाही परिवार के 32 वर्षीय उत्तराधिकारी यदुवीर कृष्णदत्त चामराजा वाडियार का सीधा मुकाबला कांग्रेस उम्मीदवार एम लक्ष्मण से होगा, जो कर्नाटक में कांग्रेस के प्रवक्ता हैं.

23 साल की उम्र में बने महाराजा
यदुवीर कृष्णदत्त चामराजा वाडियार अपने परिवार में राजनीति में कदम रखने वाले पहले व्यक्ति नहीं हैं. इससे पहले श्रीकांतदत्त नरसिम्हराजा वाडियार ने 1984 और 2004 के बीच कांग्रेस और भाजपा दोनों टिकटों पर चुनाव लड़ा. उन्होंने चार बार जीत हासिल की और दोनों बार हार का सामना करना पड़ा.

2013 में अपने पति एसडीएनआर की मृत्यु के एक साल बाद प्रमोदा देवी वाडियार ने यदुवीर कृष्णदत्त को गोद लिया था. मैसाचुसेट्स यूनिवर्सिटी से इकोनॉमिक्स में ग्रेजुएट, वाईकेसी को 2015 में 23 साल की उम्र में 600 साल पुराने वाडियार राजवंश के नए ‘महाराजा’ का ताज पहनाया गया था.

Tags: 2024 Loksabha Election, Billionaires, High net worth individuals



Source link

Related posts

Singapore Court Jails Indian-origin Man for Tampering with His Bus Speed Limit

Ram

Rising Bharat Summit 2024: पीएम मोदी बोले-दुनिया देख रही है कि पिछले 10 वर्षों में कितना बदला भारत

Ram

KJS Cement MD Booked For Cheating, Criminal Breach of Trust Over Niece’s Complaint

Ram

Leave a Comment