36.4 C
नरसिंहपुर
April 18, 2024
Indianews24tv
मनोरंजन

‘Good Luck’ Movie Review: फैमिली ड्रामा के साथ मिलेगा कॉमेडी का कॉम्बो


बृजेंद्र काला (Brijendra Kala) एक ऐसे मंझे हुए कलाकार हैं, जो पर्दे पर आते ही दर्शकों के चेहरे पर हंसी ला देते हैं… लेकिन इस बार उन्होंने हंसी के साथ-साथ रुलाया भी है. हम बात कर रहे हैं 5 अप्रैल को सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली फिल्म ‘गुड लक (Good Luck)’ की. यह एक पारिवारिक फिल्म है, जो एक मिडिल क्लास फैमिली की कहानी को दर्शाता है.

प्रखर श्रीवास्तव द्वारा निर्देशित इस फिल्म में भले ही आपको कोई बड़ा चेहरा नजर नहीं आएगा, लेकिन बृजेंद्र काला जैसे दिग्गज अभिनेता के साथ फिल्म में काम करने वाले तमाम सितारे आपका दिल जीत लेंगे. यह फिल्म मध्य प्रदेश में स्थित उजैन के एक मिडिल क्लास फैमिली की है, जिसमें बृजेंद्र काला ‘पप्पी’ नाम के एक शख्स की भूमिका में नजर आ रहे हैं.

पप्पी के घर में उसकी 75 साल की मां ‘अंगूरी’ (मालती माथुर), उसकी पत्नी और दो बच्चे हैं. वहीं, उसकी एक बहन भी है, जिसकी शादी के 20 साल हो चुके हैं, लेकिन अब तक उसके एक भी बच्चे नहीं हुए है, जो मुंबई में रहती है. वहीं, पप्पी अपने एरिया का किसी हीरो से कम नहीं है, वो अपने वार्ड से पार्षद के लिए चुनाव में खड़ा हुआ है.

पप्पी की जिंदगी में सब कुछ अच्छा चलता होता, लेकिन एक दिन अंगूरी घर के आंगन में गिर जाती है, और पप्पी अपनी मां को लेकर हॉस्पिटल भागता है, इसी बीच यह अफवाह उड़ जाती है कि अंगूरी का निधन हो गया है. इस अफवाह को सुनकर उसकी बहन भी अपने पति के साथ उज्जैन आ जाती है, लेकिन बाद में यह खबर झूठी निकलती है.

लेकिन, कहानी में ट्विस्ट यहीं से शुरू होती है, जब पप्पी को डॉक्टर बताते हैं कि उसकी 75 साल की मां प्रेग्नेंट है, क्योंकि डेढ़ महीने पहले तक उनके पिता जी जीवत थे… और डॉक्टर कहते हैं ऐसा हो सकता है, क्योंकि इससे पहले भी इस तरह केस सामने आ चुके हैं. ये सुनकर पप्पी के होश उड़ जाते हैं. वो नहीं, चाहता कि उसकी मां उम्र में मां बने, क्योंकि इससे उसके पार्षद बनने का सपना टूट सकता है.

वहीं, पप्पी की बहन रिक्वेस्ट करती है कि मां को बच्चा होने दें, और उस बच्चे को वो अपने बेटे की तरह रखेगी ताकि उसका वंश आगे बढ़ सके. किसी तरह पप्पी अपनी बहन के लिए राजी तो हो जाता है, लेकिन उसके बाद क्या-क्या होता है? ये जानने के लिए आपको पूरी सिनेमाघरों में जाकर देखनी पड़ेगी, तब जाकर आपको इन सवालों के जवाब मिलेंगे- क्या पप्पी पार्षद बन पाएगा, क्या उसकी मां बच्चे को जन्म दे पाएगा? क्या पप्पी की बहन का वंश आगे बढ़ पाएगा?

बता दें, फिल्म का पहला हाफ कॉमेडी से भरपूर है, जहां ऐसे कई सीन आएंगे, जिस पर आप अपनी हंसी रोक नहीं पाएंगे, वहीं सेकंड हाफ में इमोशनल से भरपूर है. फिल्म में गाने भी अच्छे-अच्छे हैं, जो आपके दिल के छू लेंगे. वहीं, बात करेंगे फिल्म की कुछ कमियों की तो इसमें डायलॉग डिलीवरी पर थोड़ा और काम किया जा सकता था. फिल्म में थोड़ा और लोकेशन को कवर करना चाहिए था, क्योंकि कुछ ही लोकेशन नजरों के सामने बार-बार घुमते रहते हैं.

कुल मिलाकर देखा जाए, तो एक यह फुल एंटरटेनमेंट पैक्ड है, जिसे आप एक बार अपने पूरे परिवार के साथ सिनेमाघरों में जाकर देख सकते हैं. मेरे तरफ से फिल्म को 3 रेटिंग. ‘गुड लक…’

डिटेल्ड रेटिंग

कहानी :
स्क्रिनप्ल :
डायरेक्शन :
संगीत :

Tags: Bollywood film, Film review



Source link

Related posts

शादी की खबरों के बीच साड़ी में जलवा बिखेरती नजर आईं तापसी पन्नू, बोलीं कभी कम नहीं होगा इश्क, देखें फोटो

Ram

साथी कलाकारों की कामयाबी से खुश हैं ‘संदीप भईया’, कहा- ‘उन्हें सफल देखकर’…

Ram

आडवाणी की 'रथयात्रा' ने 'बनायी' मालिनी की सबसे वाहियात फिल्म

Ram

Leave a Comment