34.7 C
नरसिंहपुर
May 19, 2024
Indianews24tv
प्रदेश

बेटी ने ‘किलर’ बॉयफ्रेंड से कराई पिता-भाई की हत्या? जबलपुर डबल मर्डर केस की Inside Story

जबलपुर में इस समय पिता और भाई की हत्या का मामला सुर्खियों में है. इस केस में प्रतिदिन नए खुलासे हो रहे हैं. हत्या के बाद से बेटी गायब है. इस समय उसकी लोकेशन महाराष्ट्र के पुणे में है. साथ में उसका प्रेमी ‘किलर’ भी है, जिसने जेल से आने के बाद इस पूरी वारदात को अंजाम दिया. जानिए कैसे एक बेटी ने अपने प्रेमी संग मिल इस पूरे हत्याकांड की स्क्रिप्ट लिखी?

यह कहानी है दो हत्याओं के आरोपी मुकुल सिंह उर्फ किलर की, जिस प्रेमिका ने प्रेमी को सलाखों के पीछे पहुंचाया था, प्रेमी ने उसी प्रेमिका के साथ मिलकर उसके पिता और भाई की निर्मम हत्या कर दी. अभी तक की पुलिस जांच में यह खुलासा हुआ है कि आरोपी ने बड़ी चालाकी से पूरे घटनाक्रम को अंजाम दिया. 15 मार्च सुबह करीब 3 बजे आरोपी ‘किलर’ प्रेमिका के घर के आसपास कंधे पर गैस कटर और पॉलीथिन लेकर घूमते हुए नजर आया. इसके बाद वह पीछे के दरवाजे के पास गया और उसे गैस कटर से काटा. उसने दरवाजे पर ‘सी’ बनाया.

आरोपी ने शातिराना अंदाज से पूरी वारदात को अंजाम दिया. घटनास्थल पर फिंगरप्रिंट न मिले, इसके लिए उसने वारदात में ग्लव्स का उपयोग किया. इसके साथ ही आरोपी ने पिता और भाई दोनों के सिर को टारगेट किया. पिता के सिर पर बांके से 9 से 10 बार हमला किया तो वहीं भाई के सिर पर दो बार हमला किया. दोनों को मौत के घाट उतारने के बाद आरोपी ने प्रेमिका की मदद से साक्ष्य छुपाने के लिए हर एक सबूत को मिटाया. इतना ही नहीं आरोपी मुकुल और उसकी प्रेमिका दोनों करीब 9 घंटे तक एक कमरे में मौजूद रहे.

75 घंटे बाद भी दोनों को नहीं पकड़ पाई पुलिस

हालांकि पिता और भाई की निर्मम हत्या करने वाले आरोपी प्रेमी और मृतक की बेटी का जबलपुर पुलिस 75 घंटे बाद भी सुराग नहीं लगा पाई है. आरोपी प्रेमी ने अपनी प्रेमिका के साथ मिलकर पिता और आठ साल के भाई की हत्या कर दी. पिता का शव पॉलीथिन में लपेटकर किचिन एवं भाई को पॉलीथिन और चादर में लपेटकर फ्रिज में छिपा दिया. दोनों वारदात को अंजाम देने के बाद फरार हो गए, जिसके बाद से जबलपुर पुलिस लगातार दोनों की तलाश कर रही है, लेकिन आरोपी और मृतक की बेटी लगातार अपने ठिकाने बदल रहे हैं.

बेटी ने ‘किलर’ बॉयफ्रेंड से कराई पिता-भाई की हत्या? जबलपुर डबल मर्डर केस की Inside Story

जबलपुर में इस समय पिता और भाई की हत्या का मामला सुर्खियों में है. इस केस में प्रतिदिन नए खुलासे हो रहे हैं. हत्या के बाद से बेटी गायब है. इस समय उसकी लोकेशन महाराष्ट्र के पुणे में है. साथ में उसका प्रेमी ‘किलर’ भी है, जिसने जेल से आने के बाद इस पूरी वारदात को अंजाम दिया. जानिए कैसे एक बेटी ने अपने प्रेमी संग मिल इस पूरे हत्याकांड की स्क्रिप्ट लिखी?

प्रेमी ‘किलर’ और उसकी प्रेमिका की तलाश में जुटी पुलिस

यह कहानी है दो हत्याओं के आरोपी मुकुल सिंह उर्फ किलर की, जिस प्रेमिका ने प्रेमी को सलाखों के पीछे पहुंचाया था, प्रेमी ने उसी प्रेमिका के साथ मिलकर उसके पिता और भाई की निर्मम हत्या कर दी. अभी तक की पुलिस जांच में यह खुलासा हुआ है कि आरोपी ने बड़ी चालाकी से पूरे घटनाक्रम को अंजाम दिया. 15 मार्च सुबह करीब 3 बजे आरोपी ‘किलर’ प्रेमिका के घर के आसपास कंधे पर गैस कटर और पॉलीथिन लेकर घूमते हुए नजर आया. इसके बाद वह पीछे के दरवाजे के पास गया और उसे गैस कटर से काटा. उसने दरवाजे पर ‘सी’ बनाया.

आरोपी ने शातिराना अंदाज से पूरी वारदात को अंजाम दिया. घटनास्थल पर फिंगरप्रिंट न मिले, इसके लिए उसने वारदात में ग्लव्स का उपयोग किया. इसके साथ ही आरोपी ने पिता और भाई दोनों के सिर को टारगेट किया. पिता के सिर पर बांके से 9 से 10 बार हमला किया तो वहीं भाई के सिर पर दो बार हमला किया. दोनों को मौत के घाट उतारने के बाद आरोपी ने प्रेमिका की मदद से साक्ष्य छुपाने के लिए हर एक सबूत को मिटाया. इतना ही नहीं आरोपी मुकुल और उसकी प्रेमिका दोनों करीब 9 घंटे तक एक कमरे में मौजूद रहे.

75 घंटे बाद भी दोनों को नहीं पकड़ पाई पुलिस

हालांकि पिता और भाई की निर्मम हत्या करने वाले आरोपी प्रेमी और मृतक की बेटी का जबलपुर पुलिस 75 घंटे बाद भी सुराग नहीं लगा पाई है. आरोपी प्रेमी ने अपनी प्रेमिका के साथ मिलकर पिता और आठ साल के भाई की हत्या कर दी. पिता का शव पॉलीथिन में लपेटकर किचिन एवं भाई को पॉलीथिन और चादर में लपेटकर फ्रिज में छिपा दिया. दोनों वारदात को अंजाम देने के बाद फरार हो गए, जिसके बाद से जबलपुर पुलिस लगातार दोनों की तलाश कर रही है, लेकिन आरोपी और मृतक की बेटी लगातार अपने ठिकाने बदल रहे हैं.

पल-पल अपना ठिकाना बदल रहे

पुलिस का कहना है कि इस घटना में प्रेमी के साथ मृतक की बेटी भी शामिल है. दोनों की गिरफ्तारी के लिए क्राइम ब्रांच की पांच टीमें और पुलिस थाने की टीम लगी हैं. अब तक करीब डेढ़ हजार से ज्यादा CCTV कैमरे चेक किए जा चुके हैं. बताया जाता है कि आरोपी इतना शातिर है कि हर बार पुलिस को चकमा देकर अपने ठिकाने बदल रहा है.

इस दोहरे हत्याकांड में आरोपी मुकुल के साथ-साथ मृतक की बेटी की भूमिका भी संदिग्ध दिखाई दे रही है. पुलिस का कहना है कि अब तक जितने भी CCTV फुटेज सामने आए हैं, उन सब में मृतक की बेटी आरोपी के साथ कदम से कदम मिलाकर चल रही है. इस बात से यह अंदेशा लगाया जा रहा है कि बेटी भी इस दोहरे खूनी खेल में शामिल है.

CCTV-1: पहले CCTV कैमरे में आरोपी मुकुल घर के नीचे खड़ी रेड कलर MP-20 SE 3291 बाइक से घर के बाहर निकलता है और खड़ा हो जाता है. पांच मिनट बाद मृतक की नाबालिग बेटी भी बाहर निकलती है और मुकुल के साथ बैठकर फरार हो जाती है.

CCTV-2: दूसरे CCTV कैमरे में आरोपी मुकुल अपनी नाबालिग प्रेमिका के साथ स्टेशन के बाहर बने बाहर स्टैंड में पहुंचता है, जहां पर वह अपनी प्रेमिका को उतारता है और अंदर की ओर जाता है. वहीं प्रेमिका चारों तरफ देखते हुए नजर आ रही है.

CCTV-3: तीसरे CCTV कैमरे में आरोपी मुकुल अपनी नाबालिग प्रेमिका के साथ मदन महल स्टेशन के अंदर जाते हुए दिखाई दे रहा है. वहीं कुछ देर रुकने के बाद वह पुलिस को चकमा देने के लिए इसी गेट से बाहर निकलता है और ऑटो की मदद से अंतरराज्यीय बस स्टैंड पहुंचता है.

CCTV-4: चौथे CCTV कैमरे में आरोपी मुकुल अपनी नाबालिग प्रेमिका के साथ हाथ पकड़ कर दीनदयाल बस स्टैंड चौराहे के पास जाते हुए दिखाई दे रहा है.

पुणे में ATM से निकाले पैसे, ट्रेस हुई लोकेशन

इसके साथ ही बताया जाता है कि आरोपी प्रेमी मुकुल सिंह और प्रेमिका दोनों बस में सवार होकर सिहोर के रास्ते कटनी पहुंचे, जहां कुछ घंटे बिताने के बाद ट्रेन से महाराष्ट्र पुणे की ओर रवाना हो गए, जिसके बाद पुलिस की टीमें आरोपी की हर लोकेशन फॉलो कर रही हैं. बताया जा रहा है कि आरोपी जो पैसे लेकर यहां से निकले थे, वह पैसे उनके पास खत्म हो गए हैं. उन्होंने महाराष्ट्र के पुणे में ATM मशीन से पैसे का लेन-देन भी किया है.

आरोपी के इंस्टाग्राम प्रोफाइल में ‘किलर’ नाम की DP

बताया जाता है कि जेल से छूटने के बाद आरोपी मुकुल ने अपने इंस्टाग्राम प्रोफाइल में ‘किलर’ की DP लगा रखी है. मुकुल सिंह और उसकी प्रेमिका ने हत्या की पूरी स्क्रिप्ट पहले से तैयार कर रखी थी. वजह सिर्फ इतनी थी कि दोनों शादी कर अपनी दुनिया बसाना चाहते थे, लेकिन परिवार को यह बात नागवार गुजरी, जिसके बाद उसने स्क्रिप्ट के अनुसार, कुछ दिन पहले ही सोशल मीडिया साइट से दो बांका ऑर्डर कर मंगाए थे. इसके साथ ही छोटा गैस कटर, पॉलीथिन, ग्लब्ज और अन्य सामग्री जुटा कर रखी थी.

चचेरी बहन को वॉइस मैसेज भेजकर दी जानकारी

पुलिस ने बताया कि सिविल लाइंस थाना क्षेत्र स्थित रेलवे की मिलेनियम कॉलोनी में रहने वाले राजकुमार विश्वकर्मा और उनके आठ साल के बेटे तनिष्क की 15 मार्च को पड़ोस में रहने वाले मुकुल सिंह के द्वारा नृसंश हत्या कर दी गई थी. यह जानकारी बेटी के मोबाइल से इटारसी में रहने मृतक राजकुमार विश्वकर्मा के बड़े भाई की बेटी के मोबाइल पर वॉइस मैसेज के माध्यम से दी गई थी. कहा गया था कि मुकुल सिंह के द्वारा भाई और पिता की हत्या कर दी गई है. बेटी के मैसेज आने के बाद परिजनों के द्वारा इस बात की सूचना पुलिस को दी गई.

पिता की लाश किचन में, भाई की लाश फ्रिज में मिली

सूचना पर पहुंची पुलिस ने देखा कि घर का दरवाजा बाहर से बंद है. दरवाजा खोलने के बाद पुलिस जब अंदर दाखिल हुई तो देखा कि राजकुमार विश्वकर्मा का शव किचन में पॉलीथिन में लिपटा हुआ पड़ा था. वहीं आठ साल के बेटे का शव पॉलीथिन में लिपटा हुआ फ्रिज में मिला था. पुलिस के मुताबिक, 52 वर्षीय मृतक राजकुमार विश्वकर्मा रेलवे विभाग में सुपरिटेंडेंट के पद पर एक ऑफिस में पदस्थ थे. विगत एक साल पहले राजकुमार की पत्नी का माता वैष्णो देवी यात्रा के दौरान देहांत हो गया था. इसके बाद वह अपनी 16 वर्षीय बेटी काव्या और आठ वर्षीय बेटे तनिष्क के साथ रेलवे की मिलेनियम कॉलोनी में रहते थे.

जिस प्रेमी को जेल भिजवाया, उसी संग मिल की हत्या!

पुलिस के मुताबिक, सितंबर महीने में बेटी के द्वारा आरोपी युवक मुकुल सिंह के खिलाफ 363 के तहत मामला दर्ज कराया गया था. इसी के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. मुकुल कुछ दिन पहले ही जेल से छूट कर आया था. कयास लगाए जा रहे हैं कि युवक ने बदला लेने के लिए इस पूरी घटना को अंजाम दिया है. वहीं पड़ोसियों का कहना है कि सुबह के वक्त कमरे से आवाज आ रही थी, लेकिन किसी ने उस ओर ध्यान नहीं दिया, क्योंकि आए दिन राजकुमार के घर वाद-विवाद चलता रहता था.

यही वजह है कि एक दिन पहले भी आरोपी मुकुल सिंह और उसकी प्रेमिका के बीच वाद-विवाद हुआ था. वहीं इस घटना को लेकर कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं कि जब राजकुमार की नाबालिग बेटी आरोपी के साथ बाइक में बैठ कर जाते हुए दिखाई दे रही है तो फिर उसके द्वारा वारदात का मैसेज परिजनों को क्यों दिया गया? इन सभी बातों को लेकर पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है.

Leave a Comment